Bed situation मुश्किल परिस्थितियों को अवसर में ऐसे बदले (3 तरीके)

व्यक्तित्व विकास

Bed situation मुश्किल परिस्थितियों को अवसर में ऐसे बदले (3 तरीके) 

Bed situation in Hindi

Bad situation
Bad situation

Bed situation दोस्तों मुश्किल परिस्थितियों को अवसर में बदला क्या आसान बात है ?

 खराब परिस्थितियों को अवसर में तब बदला जा सकता है, जब हम मानसिक स्थिति से मजबूत हो। तभी इन परिस्थितियों से निकलकर हम कुछ सोच सकते हैं।

अगर इन परिस्थितियों को अवसर में बदल दिया जाए तो जीवन में चारों ओर से खुशियां आ सकती हैं। आइए जानते हैं किन किन बातों को ध्यान में रखकर यह कदम उठाए जा सकते हैं:-

1. मानसिक संतुलन बनाए (Keep your Balance)

सर्वप्रथम इसमें कदम उठाने से पूर्व व्यक्ति मानसिक तौर पर पूर्ण धैर्यवान व स्वस्थ होना बहुत जरूरी है। क्योंकि जो दिमाग से परिपूर्ण होगा वही इन परिस्थितियों से बाहर निकलकर सोच सकता है। परिस्थितियों से विभिन्न व्यक्ति कभी दूसरी बात नहीं सोच सकता। वो सिर्फ अपने कुछ खराब हालात पर आंसू बहाने से नहीं चूकता। और सिर्फ अपने आप के भाग्य को दोषी मानकर विलाप करना पसंद करता है।

2. संयम व कार्य रूपरेखा (Moderation and work outline)

जब हालात विपरीत हो तब कुछ नया करने के अवसरों का भंडार खुल जाता है  जैसे अभी वर्तमान समय में कोरोना संकट से पूरी दुनिया झूझ रही है। यह एक विकट परिस्थिति है। हर जगह पर लॉकडाउन की स्थिति है। ऐसे में अगर रोना ही चाहे तो बहुत सारे बहाने हैं। पैसा नहीं है, काम नहीं है,आने जाने के लिए साधन नहीं है, दूसरों से नहीं मिल सकते, आदि।

हालांकि यह सभी बातें सही है, पर घर में बैठकर इस परिस्थिति से लड़ा जा सकता है। कुछ काम खुद पर हो जाए अपने ऊपर कुछ समय निकालें और अपने ज्ञान को बढ़ाये ताकि दोबारा मौका मिलते ही अपनी दुगनी रफ्तार से काम में सफल हो सके।

3. भविष्य की बड़ी योजनाओं पर काम (Work on bing plans for the future)

जब  विकट परिस्थिति होती है, तो वो सिर्फ वर्तमान समय में कुछ दिन रहने वाली है। पर भविष्य को सजाने का काम इसी समय में किया जा सकता है। यह समय योजनाओं को कर्मबंध तरीके से पूर्ण करने का आधार बनाया जा सकता है। जो आपको भविष्य में प्राप्त करना है। उसके बारे में सोचने से वर्तमान समय की कुछ तकलीफ कम हो जाएगी।

हमेशा अवसर ढूंढना मनुष्य के हित में होता है। रोना ,परिस्थितियों को दोष देना भाग्य को कोसने से सिर्फ अपने आप को तकलीफ देने के अलावा कुछ नहीं है।

 अतः विकट समय में ही सोचने की शक्ति का पता चलता है।आज से एक निर्णय जरूर करें। सोचे आज अपना भविष्य का योग है, अपने संकल्पों को मजबूती दे।

More Read

दुर्घटनाओ के 5 कारण और उपाय (In Hindi)

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *