Janmashtami Quotes in Hindi

150+ Janmashtami Quotes in Hindi | कृष्ण जन्माष्टमी लाभप्रद सुविचार हिंदी में |

हिन्दी कोट्स

Janmashtami wishes in hindi

देखिये तो आपके लिए क्या आवश्यक हैं ? hide
1 Janmashtami wishes in hindi

जय श्री कृष्ण, सभी पाठकों को कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई . वेलकम राइटर ( Welcome Writer ) की तरफ से कृष्ण जन्माष्टमी (Krishna janmashtami 2021) पर आपके लिए प्रस्तुत है बहुत ही बेहतरीन कोट्स, सुविचार, अनमोल विचार तथा शायरी अंदाज पंक्तिया .  इसके साथ ही आप कृष्ण जन्माष्टमी संबंधित संपूर्ण विवरण पढ़ने वाले हैं . आपका कीमती समय सही से यूटिलाइज हो सके इसके लिए हमने भरपूर प्रयास किया है . इस साइट पर आपको ऐसे ही बेहतरीन सुविचार, कोट्स पढ़ने को मिलेंगे .इसलिए अभी इस वेबसाइट को बुकमार्क कर लीजिए, ताकि आप आने वाले सभी त्योहारों और विशेष दिवस पर यूनिक कोट्स और कंटेंट पढ़ सकें . आपको यहां पर अनुभवी लेखकों के द्वारा बेहतरीन कंटेंट उपलब्ध कराया जाता है .चलिए कृष्ण जन्माष्टमी को खास बनाते हैं और पढ़ते हैं और मीठे तथा बेहतरीन janmashtami quotes in hindi 2021 | कृष्ण जन्माष्टमी कोट्स हिंदी में 

“कृष्ण नाम सभी श्रद्धालुओं को अतिस्य प्रिय है”

इस किताब को डिस्काउंट के साथ खरीदने के लिए क्लिक करे




 “बाल गोपाल लड्डू गोपाल तेरी, कृपा का है बड़ा परिणाम”

janmashtami quotes in hindi


 “कृष्ण की छवि जिस मन में, सफल चित उस तन में”


 “कृष्ण भक्तों को कष्ट से डरने की क्या बात है,

 श्री हरि भक्त शिरोमणि हर वक्त सबके साथ है”


 “कृष्ण जन्माष्टमी भक्तों को दु:ख से निवारण देती है”


 “जन्माष्टमी नई सभ्यता, नए विचारों को संचालित करती है”


“यदा यदा ही धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत, अभ्युथानम् अधर्मस्य तदात्मानं सृजाम्यहम्”  जब जब धरती पर पाप अपनी चरम सीमा पर बढ़ने लगता है . तब भगवान स्वयं अवतार लेकर धरती पर संपूर्ण जीवो को निर्भय करते हैं, और धर्म की पुनः स्थापना करने हेतु अधर्म का सर्वनाश करते हैं . भगवान श्री कृष्ण ने अवतार लेकर द्वापर युग में पुन: धर्म की स्थापना की तथा महाभारत जैसे भयंकर युद्ध को अंजाम दिया . आज हम भगवान श्री कृष्ण का जन्मदिन मनाते हुए हर्षित हो रहे हैं . जय श्री कृष्णा


 “ज्ञान के भंडार कृष्ण के जन्म दिवस पर,

 सभी ज्ञानी पुरुषों को नया अनुराग मिलता है”


 “शास्त्रों के शिरोमणि श्री कृष्ण जीवन के प्रेरितकर्ता है”

janmashtami quotes in hindi

 “दुनिया के सबसे बड़े मोटीवेटर भगवान श्री कृष्ण हैं”


 “कृष्ण जन्माष्टमी पर भगवान का जन्मदिन,

 तीनों लोकों में मनाया जाता है”


 “भावपूर्ण श्रद्धा से भरपूर भक्तगण,

 श्री कृष्ण जन्माष्टमी का इंतजार दिल से किया करते हैं”


 “भगवान श्री कृष्ण तीनो लोको के स्वामी हैं,

इनका जन्मदिन मनाने वाले सौभाग्यशाली हैं”

janmashtami quotes in hindi | कृष्ण जन्माष्टमी कोट्स इन हिंदी 




 “कृष्ण जन्माष्टमी पर व्रत धारण करने वाले श्रद्धालु

श्री कृष्ण के अतिस्य प्रेम के भागीदारी बनते हैं”


 “श्री कृष्ण इस जगत में प्रेम लीला के स्वामी है”


 “कामदेव भी जिसके सामने लज्जा जाए,

ऐसा स्वरूप के स्वामी श्री कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”

janmashtami status in hindi


 “श्री कृष्ण की लीला जगत के लिए एक प्रेरणा स्रोत है”

janmashtami quotes in hindi


 “कृष्ण जन्माष्टमी त्योहार मनाना भक्तों पर श्रीकृष्ण की ही कृपा है”


 “जो भी कृष्ण जन्माष्टमी पर भगवान को याद करते हैं,

 अगले साल तक नेगेटिव एनर्जी से दूर रहते”


  “श्री कृष्ण पॉजिटिव सोच के सबसे बड़े स्वामी  हैं”


 “कृष्ण की सभी लीलाएं जगत को मार्गदर्शन देती है”


कृष्ण जन्माष्टमी शायरी | krishna janmashtami shayari

भक्तगण भगवान श्री कृष्ण को अपने हृदय में महसूस करते हैं और अपने दिल से भगवान श्री कृष्ण के लिए शायराना अंदाज में कुछ पंक्तियां गुनगुनाते हैं . ऐसी पंक्तियां जो दिल को मनोहर कर दे और अपने भगवान श्री कृष्ण के प्रति अतिशय प्रेम को बढ़ा दे . चलिए पढ़ते हैं krishna janmashtami shayari in Hindi 

 “माखन चोर मदन गोपाल नाम तेरे सुहाने हैं”

 बाल नटखटी तेरी हर मन में लुभावें हैं “




 “मधुबन में कान्हा ने रास किए,

  राधा के मन में वास किए”


 “प्रेम की गंगा बहाई राधा संग,

कृष्ण तेरी लीला अब किसके संग”


भाद्रपद की कृष्ण पक्ष अष्टमी के दिन भगवान श्री कृष्ण का अवतार हुआ था और इसी दिन को भगवान श्री कृष्ण के जन्मदिवस अर्थात कृष्ण जन्माष्टमी के रूप में मनाया जाता है . कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार मनाकर भक्तगण अपने जीवन को सफल बनाते हुए, भगवान श्री कृष्ण की पूजा अर्चना करते हैं . जय श्री कृष्णा


 “कृष्ण जन्मोत्सव है निराला सबको यह रमता है,

 छवि में तेरे मधुबन बसा निष्कलंक सबको बनाता है”

जन्माष्टमी शायरी | janmashtami shayari


 “हे नंद के लाल लीला तेरी अपार है

 हर ले कष्ट भक्तों के, लगे अति भार है”

janmashtami quotes in hindi


 “दे मुरली की तान तू, तन मन जाग उठेगा

 सुन मुरली के सुर मधुर चित ध्यान लगेगा”


 “तुझे जब जब भी करते हैं याद हम

 तेरे होने का पास एहसास करते हैं हम”


 “जन्मदिन तेरा मना कर दिल प्रफुल्लित होता हमारा

 नई चेतना जागृत होती मिटे सब दुख हमारा”


 “जन्माष्टमी का पर्व साल में हम मनाते हैं

 तेरी याद में हम अपना जीवन संवारते हैं”


आप भी शब्दों की गंगा में डुबकी लगाइये और इस्वर का ध्यान करिये – Janmashtami Quotes in Hindi

कृष्ण जन्माष्टमी के दिन भक्तगण व्रत धारण करते हैं. भगवान श्री कृष्ण के मंदिर में जाकर पूजा अर्चना करते हैं, और दिन भर निराहार रहकर व्रत का संकल्प लेते हैं . तथा रात्रि को 12:00 बजे बाद व्रत का पारण ( व्रत उद्यापन हैं ) करते हैं . अगर शुभ मुहूर्त के अनुसार व्रत का पारण करें तो अगले दिन सुबह व्रत का पारण करना श्रेष्ठ रहता है . जय श्री कृष्णा


 “मधुबन की खुशबू तेरे होने का एहसास कराती है

 मन होता मोहक हमारा तेरे दिव्य दर्शन कराती है”


 “कृष्ण भक्तों को कष्ट हो सकता नहीं कभी

 जन्माष्टमी पर हर ले कष्ट, फिर आए ये ना कभी”


 “नंद के लाल विचित्र तेरी लीला है

 भक्तों के हृदय में तू ही सुवेला है”


 “नंद के लाल ब्रिज की बाला

 यह राधा कृष्ण का प्रेम मतवाला”


“श्री कृष्ण गोविंद हरे मुरारी

 तेरी कृपा हो सब पर भारी”


 “कृष्ण जन्माष्टमी देती हृदय को सुकून है

  लीला कृष्ण की भक्तों में भरती जुनून है”


आइये जानते है क्यों शब्द हमें इस्वर से जोड़ते है – Janmashtami Quotes in Hindi

कृष्ण जन्माष्टमी के दिन भक्तगण बाल गोपाल कृष्ण की मूर्ति की पूजा अर्चना करते हैं . तथा भगवान श्री कृष्ण द्वारा माखन चुराकर खाने की तथा माखन हांडी फोड़ने की परंपरा निभाते हैं . इसी के साथ बाल गोपाल श्री कृष्ण को झूला झुलाया जाता है . ऐसा करने से भक्तों की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती है . जय श्री कृष्णा


 “कृष्ण जन्माष्टमी पर्व का इंतजार करते सब भक्त हैं

 कोई पूजे बाल गोपाल, कोई राधा कृष्ण के आसक्त है”


 “हर वर्ष हृदय में बसे कृष्ण हर क्षण है

 भक्तों पर कृष्ण कृपा बड़ी ही विलक्षण है”


 “एक त्यौहार एक राधा एक कृष्ण अपार है

 न्योछावर दे तन मन धन कृष्ण ऐसा अवतार है”


 “बाल लीला युद्ध कला प्रेम लीला के उस्ताद हैं

  मेरे कृष्ण अनुरागी त्रिभुवन के संवाद”


 “कृष्ण लीला बाल लीला जन्माष्टमी को खेला है

 उत्साह उमंग भर दे जन्माष्टमी बड़ा ऐसा मेला है”


 “बाल गोपाल कृष्ण लीलाओं की खान है

 मन में बसे अलंकृत होकर ऐसे कृष्ण निदान है”


जन्माष्टमी बधाई सन्देश  janmashtami wishes 

भक्तजन कृष्ण जन्माष्टमी पर एक दूसरे को Janmashtami Wish करने के लिए बेहतरीन पंक्तियां चाहिए होती है . यहाँ आपको बेहतरीन और यूनिक janmashtami wishes (in hindi) पंक्तियां पढ़ने को मिलेगी  इन बेहतरीन पंक्तियों के साथ आप अपना को कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई देने से ना रुके, और सभी की जन्माष्टमी बेहतरीन हो इसके लिए वेलकम राइडर आप सभी को बधाई देता है . 

 “संपूर्ण प्रकृति के स्वामी श्री कृष्ण के जन्मदिन पर हार्दिक बधाई हो”


 “मायापति श्री कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”


 “गीता ज्ञान के भंडार स्वामी का जन्मदिन मुबारक हो”


 “गीता ज्ञान के भाव सागर भगवान श्री कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”


 “प्रेम लीला के उस्ताद, राधा के स्वामी श्री कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”

janmashtami quotes in hindi


 “माखन चोर, मन के विभोर श्री कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”


भगवान श्री कृष्ण का अवतार रोहिणी नक्षत्र में हुआ था और श्री कृष्ण द्वापर युग में नोवें अवतार हैं . भगवान श्री कृष्ण ने 16 कलाओं के साथ अवतार लिया था . भगवान श्री कृष्ण ने अपने लीलाकाल में संपूर्ण लीलाओं को धर्म का आधार बनाया तथा सृष्टि के लिए एक धर्म मर्मज्ञ मार्ग स्थापित किया जय श्री कृष्णा


 “सृष्टि के संचालक श्री कृष्ण के जन्मदिवस पर हार्दिक बधाई”


 “सुख संपदा व जगत के स्वामी बाल गोपाल कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”


 “युद्ध कला के रचयिता श्री कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”


 “मनमोहन, चितचोर, बाल लीला के उस्ताद, का जन्मदिन मुबारक हो”


 “भवसागर के तारणहार श्री कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”

 janmashtami quotes in hindi


 “नंद के लाल यशोदा के खास, श्री कृष्ण गोपाल के जन्मदिन पर हार्दिक बधाई”


 “आतताई कंस के मर्दनकर्ता श्री कृष्ण के जन्मदिन की हार्दिक बधाई”


 “महाभारत युद्ध के धर्म आधार श्री कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”

janmashtami quotes in hindi


 “सुदर्शन धारी, नाम गिरधारी, गोकुल शिरोमणि श्री कृष्ण का जन्मदिन मुबारक हो”

janmashtami quotes in hindi
janmashtami quotes in hindi

 “माखनचोर, बाल गोपाल का जन्मदिन मुबारक हो”


 “अर्जुन के रक्षक, केशव मधुसूदन का जन्मदिन मुबारक हो”


भाद्रपद की अष्टमी के दिन भगवान श्री कृष्ण के जन्म दिवस के रूप में जन्माष्टमी को भव्य पर्व के रूप में मनाया जाता है .  अगले दिन दही हांडी फोड़ प्रतियोगिता रखी जाती है . इस प्रतियोगिता में गली मोहल्ला तथा बड़ी ऊंची इमारतों पर एक दही से भरी हांडी बांधी जाती है . तथा अलग-अलग टीमों के द्वारा पिरामिड बनाकर एक व्यक्ति द्वारा उस हांडी को फोड़ा जाता है  ऐसा करने से सभी भक्तों को खुशी मिलती है और भगवान श्री कृष्ण खुश होते हैं जय श्री कृष्णा


 

IMPORTANT LINKS

Teachers Day Quotes In Hindi | Teachers Day Shayari | शिक्षक दिवस 2021

राखी कोट्स | रक्षा बंधन कोट्स हिंदी में |

150+Motivational Quotes In Hindi For Students

जन्माष्टमी पर अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q . श्री कृष्ण का जन्म कब हुआ था?

Ans. भगवान श्री कृष्ण का जन्म भाद्रपद माह की कृष्ण पक्ष की अष्टमी के दिन हुआ था और भगवान श्री कृष्ण  ने मध्य रात्रि रोहिणी नक्षत्र में अवतार लिया था.

Q. श्री कृष्ण का जन्म कहां हुआ था?

Ans. भगवान श्री कृष्ण का जन्म कंस के कारागार अर्थात मथुरा में हुआ था .

Q. श्री कृष्ण का जन्म कितनी कलाओं के साथ हुआ था?

Ans. भगवान श्री कृष्ण ने द्वापर युग में 16 कलाओं के साथ अवतार लिया था.

Q. कृष्ण जन्माष्टमी कब मनाई जाती है?

Ans. कृष्ण जन्माष्टमी हर वर्ष भाद्रपद महा की अष्टमी के दिन मनाई जाती है .धर्म शास्त्रों के अनुसार अष्टमी के दिन भगवान श्री कृष्ण ने देवकी के गर्भ से जन्म लिया था .तथा वासुदेव भगवान श्री कृष्ण के पिता थे.

Q. कृष्ण जन्माष्टमी का महत्व क्या है?

Ans. कृष्ण जन्माष्टमी के दिन 16 कला अवतारी भगवान श्री कृष्ण का अवतार हुआ था और यह अवतार धर्म का मार्ग प्रस्तुत करने हेतु और अधर्म का विनाश करने हेतु हुआ था . संपूर्ण सृष्टि अधर्म को हमेशा धर्म से दूर रखना चाहती है और धरती पर भगवान सदेव धर्म की रक्षा करने हेतु जन्म लेते रहें, ऐसी ही लालसों के चलते भगवान श्री कृष्ण को आज भी जन्माष्टमी के दिन याद किया जाता है. पूजा अर्चना की जाती है .

Q. जन्माष्टमी व्रत कैसे करें?

Ans.  कृष्ण जन्माष्टमी का व्रत निराहार रहकर किया जाता है. तथा भगवान श्री कृष्ण के अवतार समय अर्थात रोहिणी नक्षत्र के बाद ही भक्तों को कुछ अल्पाहार करना चाहिए . तथा व्रत का पारण अगले दिन सवेरे शुभ मुहूर्त में किया जाना श्रेष्ठ फलों का कारक बनता है . 

Q. जन्माष्टमी व्रत में क्या खाना चाहिए?

Ans. जन्माष्टमी का व्रत धारण करने वाले श्रद्धालुओं को अन्न से बनी हुई खाद्य सामग्री का उपयोग नहीं करना चाहिए . जन्माष्टमी व्रत निराहार रहकर किया जाता है अगर फिर भी कोई श्रद्धालु अल्पाहार करना चाहते हैं तो फल और पेय पदार्थ का उपयोग कर सकते हैं . तथा ड्राई फ्रूट्स संबंधी प्रोडक्ट यूज कर सकते हैं .

Q. जन्माष्टमी व्रत करने से क्या फल मिलता है?

Ans. जन्माष्टमी व्रत से श्रद्धालुओं को शांति मिलती है और भगवान श्री कृष्ण की अतिशय कृपा का अनुराग मिलता है. जन्माष्टमी का व्रत धारण करने से भक्तगण हमेशा ऊर्जावान रहते हैं . उनकी शक्ति कभी भी लुप्त नहीं होती . 

Q. कृष्ण जन्माष्टमी का व्रत क्यों रहते हैं?

Ans. जन्माष्टमी व्रत धारण करने से भक्तों के शिरोमणि भगवान श्री कृष्ण प्रसन्न होते हैं और उन्हें सुख शांति प्रदान करते हैं . ऐसा करने से भक्तों को शक्ति मिलती है और भक्त भगवान से प्रार्थना करते हैं कि उनका अवतार ऐसे ही धर्म की स्थापना करने हेतु और अधर्म का नाश करने हेतु इस धरती पर  होता रहे.

Q. जन्माष्टमी व्रत का उद्यापन कैसे करें?

Ans. जन्माष्टमी का व्रत उद्यापन श्रेष्ठ मुहूर्त में अगले दिन सवेरे करें और इस दिन सबसे पहले बुक है ब्राह्मणों को खाना खिलाएं तथा उन्हें  यथासंभव वस्त्र भेंट करें . गायों को हरा चारा खिलाएं तथा सात्विक भोजन के साथ पालन करें . ध्यान रहे व्रत उद्यापन करते समय श्रद्धालुओं को सात्विक भोजन का ही उपयोग करना चाहिए .

 

Thanks For Visit 

जय श्री कृष्णा 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *