School Love Story in Hindi

School Love Story in Hindi | दिल को छूने वाली स्कुल लव स्टोरी (प्यार से शादी तक)

लव स्टोरी

School Love Story in Hindi | दिल को छूने वाली स्कुल लव स्टोरी (प्यार से शादी तक)

School Love Story in Hindi
School Love Story in Hindi

आज हम लेकर आये है आपके लिए एक दिलचस्प स्कुल लव स्टोरी School Love Story in Hindi आइये शुरू करते है  –दोस्तों कहते हैं रिश्तो में जोड़ियां ऊपर वाला बनाता है . अगर यह बात सही है, तो पोस्ट को लाइक जरूर करना आज एक ऐसी ही प्रेम कहानी जो कुदरत की देन है आइए जानते हैं एक दिलचस्प कहानी के बारे में-

राज व अंजली  दोनों ही स्कूल में बेस्ट फ्रेंड थे .दोनों साथ ही रहते साथ लंच करते यहां तक कि घर भी साथ साथ ही जाते जाते थे .पर दोनों के बीच प्यार वाली कोई बात नहीं थी .वे आपस में दोस्त ही बने रहना ज्यादा पसंद करते थे. राज अपने यहां नाना – नानी के रहकर ही पढ़ाई कर रहा था।

अब उसकी स्कूल की पढ़ाई पूरी हो चुकी थी .उसे अपने माता-पिता के साथ दुबई जाना था .अंजलि ने राज से कहा, “अब तो विदेश जाने वाले हो तो क्या तुम्हे मेरी याद आएगी?” राज ने कहा, “हम दोनों अच्छे दोस्त हैं और अच्छे दोस्त दिल में बसते हैं . मुझे तुम्हें याद करने की जरूरत नहीं तुम हमेशा मेरे दिल में रहोगी.” अब दोनों दूर हो गए।

क्या अंजलि और राज मिल पाएंगे ? स्कुल लव स्टोरी कभी पूरी हो पायेगी

अंजलि अब बड़ी हो गई. करीब 10 वर्ष बाद अंजली के परिवार वालों ने रिश्ते की बात चलाना शुरू की दिया. रिश्ता तो करना ही था. इधर राज अपने खुद के बिजनेस में लगा हुआ था.  उसके पापा ने पूछा, “राज क्या तुम्हें कोई लड़की पसंद है, जिससे तुम्हारी शादी की बात कर सके?” राज ने कहा, “नहीं पापा, मैंने कभी लड़कियों को अपने जीवन में कुछ ज्यादा महत्व नहीं दिया, पर मैं भारतीय लड़की से ही शादी करना पसंद करूंगा.” इधर अंजली कि मां ने भी उससे पूछा, “क्या तुम किसी लड़के को जानती हो, जो तुम्हें पसंद हो, क्योंकी सभी के जीवन में एक प्रेम होता ही है. (जिसे स्कुल लव स्टोरी कहते है) ताकि हम तुम्हारे रिश्ते कि बात कर सके.” अंजली ने भी सेम राज की ही तरह जवाब दिया दोनों ने किस्मत से  अनजान थे। (Love Story | लव स्टोरी | Phone Pe ने कर दी सेटिंग | Romantic Love Story)

कुछ दिनों बाद, दुबई में राज के पापा को इंडिया से फोन जाता है, उसने कहा एक रिश्ता है राज के लिए आपको फोटो भेज देता हूं, आप देख कर बता दिजिएगा. राज के पापा ने फोटो राज को दिखाई. किस्मत से ये फोटो वाला रिश्ता अंजलि के घर से आया था. इस कहानी में ट्विस्ट ये हैं की राज और अंजलि दोनों आपस में अनजान थे.

 फोटो में राज सही से अंजलि को पहचान नहीं पाया क्योंकि बचपन के दोस्त थे. अंजली और राज ने दोनों ने आपस में फोटो देखी पर पहचाने नहीं. दोनों एक दूसरे को फोटो के हिसाब से पसंद तो कर लिया।

अब राज के परिवार ने इंडिया में ही शादी करने का फैसला करके इंडिया आ गये. दोनों को आपस में मिलने का मौका मिला कुछ दिनों तक वापस में मिले, पर किसी ने यह नहीं कहा कि स्कूल में कोई दोस्त रहे थे. बस आपस में जनरल बातें करते रहे . राज के पास उसके बचपन के दोस्त का फोन आया और उसने कहा, “अरे भाई, मैंने ही तेरे लिए लड़की देखी है, बता कैसी लगी?” राज ने कहा, “ठीक है.”

दोस्त ने कहा, “क्या तुम उसे पहचान गए?” राज ने कहा, “आप क्या कहना चाहते हो, मैं कुछ समझा नहीं.” दोस्त ने कहा, “अरे यार, ये वही तेरे बचपन कि दोस्त अंजलि ही है, जिसे तू अपना बेस्ट फ्रेंड मानता था.” अंजलि को भी अब पता चल चुका था कि वह बचपन के दोस्त से ही शादी करने वाली है . इस बात को जानकर दोनों को आपस में बहुत बड़ी खुशी होती है और उन्होंने अपने बचपन की दोस्ती को प्यार में बदलना शुरू किया और कुछ दिनों बाद शादी कर ली।

और पढ़े:-

Love Story | लव स्टोरी | Phone Pe ने कर दी सेटिंग | Romantic Love Story

School Love Story | स्कूल लव स्टोरी इन हिन्दी, सच्चा प्यार सच्ची कहानी

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *