एक खतरनाक सलाह Inspirational hindi Articles

Inspiration Articles

दोस्तों हम जिस भी कार्य को कर रहे हैं, उसके लिये हम दिन रात मेहनत करते हैं। और जब हमारा मन उस कार्य को लेकर कभी उदास होता है।और हमे किसी की सलाह की जरूरत होती है।तो यहां पर हम एक बहुत ही बड़ी भूल करते हैं। यह भूल हमारे कार्य करने कि क्षमता को बहूत ज्यादा परभावित करती है ।

                                (Inspirational Hindi Articles..)

और उस कार्य को बंद करना पड़ता है। फिर हम किसी दूसरे कार्य में लग जाते हैं। उसमें हमें किसी और की सलाह की जरूरत पड़ती है।फिर हमें उसे हताश होना पड़ता है। ऐसा करते- करते  हमारी जिंदगी का काफी समय गुजर जाता है। तो ऐसा क्यों है, कि हम जिस कार्य को कर रहे हैं, अगर सलाह ले रहे हैं तो क्या हम गलत कर रहे हैं?  मैं कहूंगा जी हां हम सलाह लेकर बहुत कुछ गलत कर रहे हैं।

आप जिस भी कार्य को कर रहे हैं, उस कार्य के प्रति आपकी जो सोच है, जो समर्पण है, जो आपका लगाव है। वह किसी और अन्य व्यक्ति को नहीं होगा। और हो भी नहीं सकता। क्योंकि वो आपका खुद का कार्य है। ऐसी स्थिति में हम जो गलती करते हैं,वो ये है  हम उन लोगों के पास चले जाते हैं।जो हमारे हितेषी तो हैं, हमारे मित्र हैं, हमारे शुभचिंतक भी हैं, परंतु जब हम उनसे सलाह लेते हैं।अपने धंधे के बारे में अपने काम के बारे में उन से कुछ पूछते हैं।

तब उनकी तरफ से जो खतरनाक सलाह है। वह हमारे पैरों के नीचे से जमीन खिसकाने का काम करती है। क्योंकि हम उन लोगों से बात कर रहे हैं, जिन्हें उस धंधे के बारेABCD भी पता नहीं है।और वे कहते है हम सब जानते है जबकि उनका खुद का बेकराउड जिरो है। इसी वजह से हमें वहां से नेगेटिव एनर्जी मिलती है। और हमारा मन कहीं दूसरी दिशा में भटकने लग जाता है ।

क्योंकि दोस्त इस संसार में सबसे ज्यादा जो फोकट में मिलने वाली चीज है वह है दूसरों की राय ।और यह राय 99 प्रतिशत खतरनाक साबित होती है। क्योंकि हम उन लोगों सलाह कर बैठते हैं। जिन्हें खुद को सलाह की जरूरत है। दोस्त हमारे आस-पास तजुर्बा हीन जनता रहती है। उसी जनता के पास अगर हमारे इन सब सवालो का जवाब हो। तो हर व्यक्ति कामयाब हो सकता है।

हम उन लोगों से सलाह कर बैठते हैं। जिनके पास उस काम को लेकर कोई अनुभव नहीं है। वह बिल्कुल अनुभवहीन है। हमें अपने अनुभव हीनता का प्रभाव दे डालते हैं। जब उनका प्रभाव अपने मन पर पड़ता है। तो बहुत गहरी छाप छोड़ जाता है। और हमें उनकी बातें सच लगने लग जाती है। इसे एक काला जादू कहा जा सकता है। इस सलाह से परिवर्तन तो होता है, पर विकास की तरफ नहीं हमारी बर्बादी की तरफ। सिर्फ और सिर्फ यह सलाह आपको बर्बाद कर सकती है। आबाद नहीं कर सकती।

हमें उन लोगों से हमेशा दूर रहना है। हमें उन लोगों से कभी सलाह नहीं लेनी है। हमें उन लोगों से कभी अपने कार्य के प्रति चर्चा नहीं करनी है। जिन्हें इसके बारे में कुछ भी पता नहीं है ,जो अनुभवहीन है। वो चाहे वह हमारा रिश्तेदार हो, चाहे हमारा शुभचिंतक हो, चाहे हमारा दोस्त हो, चाहे हमारे फैमिली मेंबर हो।क्योंकि जो आप सोचते हैं, उस कार्य के प्रति वे कभी नहीं सोच सकते।

किसी अनूभवहिन व्यक्ति से अपने कार्य के प्रति सलाह लेने से हमेशा बचें । हा सलाह लेनी है तो उन व्यक्तियों से लीजिए जो उस कार्य में सफलतम उच्चाई पर है । उस व्यक्ति की जीवनी पढें, उस व्यक्ति का स्वभाव पढें, उस व्यक्ति की इंटरव्यू देखें। उसके द्वारा बताई गई सलाह को फॉलो करें। तभी जाकर के उस कार्य में सफल हो सकते हैं। तो आज से ही यह निर्णय करें कि हमें ऐसे लोगों से यथावत दूर ही रहना है। जितना हो सके उतना दूर ही रहना है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *