अच्छे व्यवहार ने जान बचाई Best Relationship

संबंध कहानीयाँ

कहते हैं, पैसा हर वक्त हर जगह पर काम नहीं आता और अच्छा व्यवहार हर क्षण काम आता है | इसकी कीमत इतनी महान है, कि पैसे से नहीं खरीदी जाती और सस्ता इतना की हर गरीबी इसे अपना सकता है।

 

साहिल एक अच्छीMNC कंपनी में काम करता था | वह सभी से प्रेम पूर्वक व कुशल व्यवहार करता था | उसका किसी से कोईद्वेश नहीं था और नहीं उससे किसी व्यक्ति से परेशानी थी | वह अपना काम बड़ी सूझ बूझ से करता था |

एक दिन साहिल ठेले पर से कुछ सब्जियां खरीद रहा था, तभी एक व्यक्ति वहां पर आया और ठेले वाले से बातों –  बातों में  ही झगड़ने लगा। उसने उस गरीब की कॉलर पकड़ ली | तभी साहिल ने कहा,“अरे सर, आप इस गरीब को क्यों पीट रहे हो, आखिर इसने आपका क्या बिगाड़ा है”| वह व्यक्ति कहता है,“इसने मुझे खराब  सब्जियों के साथ पैसा भी ज्यादा ले लिया  और फिर झूठ और बोलता है, कि पैसा ज्यादा नहीं लिया”|

साहिल ने पूछा, इसने आपसे कितने रुपए ज्यादा लिए बताइए? उस व्यक्ति ने कहा,“इसने मुझसे ₹100 ज्यादा लिए और सब्जियां भी सही नहीं थी”| साहिल  ने कहा,“आप इसे छोड़ दीजिए और इसे बोलने दीजिए”| तब ठेलेवाला (भावुक होकर) कहता है, “साहब आपको कोई गलतफेमी हुई है, मैं ईमानदारी पर ही चलता हूं| मैंने कभी किसी का बुरा नहीं सोचा है”|

साहिल ने दोनों को समझा दिया था| कुछ दिनों बाद साहिल अपनी बाइक से किसी काम से जा रहा थाकि अचानक किसी कार से टकराने की वजह से उसका एक्सीडेंट हो गया | इसी समय वह ठेले वाला सब्जियों से  भरी एक गाड़ी लेकर आ रहा था, उसने देखा, कि यह तो साहिल साहब है |

उसने साहिल को संभाला और हॉस्पिटल लेकर गया। 2 दिन बाद साहिल को होश आया | तब तक साहिल का सारा परिवार वहां आ चुका था। और उन्होंने ठेले वाले का खूब शुक्रियादा किया | इतने में हॉस्पिटल में किसी लेडीज के चीखने की आवाज सुनाई दी | साहिल और परिवार वालों ने देखा, एक महिला अपने पति की लाश को लेकर डॉक्टर से उसे बचाने की मांग कर रही थी |

डॉक्टर कह रहा था,“मैडम इन्हें जल्दी हॉस्पिटल अगर कोई ले आता तो इनकी जान बच जाती, परंतु अब कुछ नहीं हो सकता, आप इन्हें ले जाइए”| जब साहिल ने उस औरत को डाडंस बंधाने उसके पास गया और उस व्यक्ति को देखते ही पहचान गया | वह व्यक्ति वही था,जो ठेले वाले से उस वक्त बतमिजी से लड़ रहा था|

साहिल को व्यवहार की कीमत पता चल चुकी थी | वह ठेले वाले के पास जाकर धन्यवाद कहता है।तभी ठेले ने कहा, “साहब आपको याद है, एक दिन एक व्यक्ति आपके सामने मुझे पीट रहा था”| साहिल ने कहा,“हां याद है” | ठेले वाले ने कहा,“उसका एक्सीडेंट हो गया, रास्ते में मैंने देख लिया था, परंतु मैं थोड़ा लेट हो रहा थातो मैंने  एम्बुलेंस को बुला कर उसे हॉस्पिटल भिजवा दिया था | अब पता नहीं वह कैसा है”|

साहिल ने कहा,“परंतु  तुमने तो मुझे खुद हॉस्पिटल पहुंचाया था”| ठेले वाले ने कहा,“सर आपकी बात दूसरीहैं और उसकी दूसरी | अब आप तो यह बताइए, आपकी तबीयत कैसी है ? साहिल ने कहा,“ठीक है”| यहां पर साहिल को सब समझ आ गया था कि एक – अच्छा  व्यवहार जीवन में कितना महत्वपूर्ण होता है |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *