Mask लोगो के शरीफ़ चेहरे के पीछे भयानक चेहरा (Real thoughts)

फेक्टस

Mask लोगो के शरीफ़ चेहरे के पीछे भयानक चेहरा ( Real Thoughts )

    Mask मखौटा

Mask लोगो के शरीफ़ चेहरे के पीछे भयानक चेहरा ( a Real story )
Mask

mask दोस्तों जैसा कि आप जानते हैं, आज के इस युग में लोगों के मनोभाव ऐसे बदल रहे हैं, जैसे मौसम का मिजाज बदलता है। लोग अपने चेहरे को एक मुस्कान का मुखौटा पहनाकर अच्छे समझदार लोगों को अपनी चालाक मुस्कान से लूटने में माहिर होते जा रहे हैं। Mask आख़िर लोगो के चहरे पर भयानक चहरा क्यों ?

आजकल शक्ल पर कुछ, जबान पर कुछ, और दिल में बहुत कुछ। लोग अनकहे अनसुने राज लेकर दूसरों के कत्ल की फिराक में बैठे हैं। इन्हें पहचान पाना किसी के बस में नहीं रहा। सामने वाला कब क्या करदे। अब तो इंसान को सबसे बड़ा खतरा अपनों से ही है। पहले तो कोई दुश्मनों से खतरा था ही पर अब घर में ही ?

आज इंसान को विश्वास करने में देर लगने लगी है। विश्वासघात तो कभी भी किया जा सकता है। लोग मदद करना चाहते हैं। पर मदद का नाजायज फायदा उठाना आजकल फैशन बनता जा रहा है। इसी वजह से जिन जरूरतमंद सज्जन लोगों को मदद की जरूरत है, वह भी मदद को तरस रहे हैं अब ?

आज की संस्कृति इतनी धूमिल होती जा रही है कि भविष्य की तस्वीर धुमिलता के कारण भयानक दिखाई देने लगी है। हर बच्चा अपने संस्कारों को न्यू फैशन से देखने लगा है, तो क्या ऐसा करना सही है ?

आज के समय की बात करें तो बुजुर्गों के पैर छूना ही ओल्ड फैशन होता जा रहा है। अब बताओ इस जमाने में आज की तस्वीर से भविष्य कैसा दिखाई देगा। कैसे अपने भविष्य को संस्कारित होना कह सकते हैं ?

आजकल लोग अपने मुखोटे पर मायूसी कर चेहरा लेकर किसी को नुकसान पहुंचाने की योजना तो ऐसे बना रहे हैं, जैसे कोई न्यू गेम खेलना हो। मायूसी का मुखौटा सबसे खतरनाक होता जा रहा है। लोगों मे इतनी अक्ल भी नहीं बची कि इस चेहरे को भलीभांति पहचान सके।

भविष्य की सोच कर तो सपने में भी डर लगने लगता है. कि आखिर इस कलयुग में क्या क्या होने वाला है। लोग हर बड़ी से बड़ी परेशानी को अपनी परेशानी थोड़ी है, सरकार की है, देश की है, इसमें अपना क्या जाता है ऐसी भावना पाले बैठे हैं। यह पता नहीं इससे नुकसान खुद को ही होने वाला है।

More Read

ससुराल के सस्कारों ने सिखाया बहु को सबक ( Family )

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *