Manya Sinsh (photo Instagram)

Femina Miss India 2020 रिक्शा चालक की बेटी संघर्षों के बीच बनी first runner up

ट्रेंडिंग न्यूज़

Femina Miss India 2020 रिक्शा चालक की बेटी संघर्षों के बीच बनी first runner up

Femina Miss India 2020 रिक्शा चालक की बेटी संघर्षों के बीच बनी first runner up
Femina Miss India 2020 रिक्शा चालक की बेटी संघर्षों के बीच बनी first runner up

Femina Miss India 2020 दोस्तों कहते है जब इरादों में आग होती हैं, उनके लिए संघर्षरूपी पानी भी घी का काम करता है। अपने संघर्षो से सिखने वाले लोग हार जाये ये कभी होता नहीं। जो भी पहले सफल हुआ है या संघर्ष कर रहा है, उन्होंने इस संघर्षरूपी रास्तों में तकलीफों को हर रोज जिया है।
ऐसी एक संघर्षो के बिच सफलता की कहानी सामने आई है। Femina Miss India 2020 First runner up. उत्तर प्रदेश की मान्य सिंह Manya singh का सफर मिस इंडिया के ख़िताब तक पहुंचना बड़ा मुश्किल भरा रहा। तेलगाना की मानसा वाराणसी (Manasa Varanasi) VLCC Femina Miss India 2020 का ख़िताब अपने नाम कर लिया है। miss india contest 2020 में फर्स्ट रनर उप मान्य सिंह Manya singh रही. दूसरे पायदान पर मनिका शियोकांड (Manika Sheokand) ने अपनी दौड़ पूरी की।
फेमिना मिस इंडिया 2020 के कांटेस्ट में फर्स्ट रनर रही मान्य सिंह का सफर आसान नहीं था। मान्य सिंह के पिता एक रिक्शा चालक है। और मान्य सिंह की पढ़ाई के लिए मान्य सिंह की माँ ने अपने जेवर गिरवी रख दिए। 
मान्य सिंह ने अपनी संघर्ष कहानी Instagram पर शेयर करते हुए लिखा है की मै कई राते बिना खाने और नींद के काटी है। किसी स्थान पर पॅहुचने के लिए घंटो भरी दोपहर में पैदल चली तांकि रिक्शा का किराया बचा सके।
बचपन में हाथ से बने हुए कपड़े पहने वो भी स्कूल यूनिफार्म एक ही हुआ करती थी। पढ़ाई का सफर संघर्षो में रहा. बचपन से ही दुसरो के घरों में बर्तन मांजने का काम करना पड़ा। घर में पैसो की कमी के चलते रात को कॉल सेंटर में नौकरी की। मिस इंडिया के मंच पर पहुंचना लगभग असंभव था। परन्तु मान्य सिंह के सपने देखने की ताकत ने संघर्षो में जीने का हौसला दिया। और वो आज इस मिस इंडिया के मंच पर सफलता और संघर्ष की कहनी बन गई।

More Read

Trending News in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *